आप यहां हैं : होम» रियो ओलंपिक

मंत्री जी गए थे रियो ओलंपिक देखने, कर रहे हैं सैर-सपाटा

Reported by nationalvoice , Edited by pratima-tripathi , Last Updated: Aug 17 2016 7:05PM
rio_201681719517.jpg

रियो डी जेनेरियोः केंद्रीय खेल मंत्री विजय गोयल के बाद हरियाणा के खेल मंत्री अनिल विज विवादों में आ गए हैं। विज 9 सदस्यीय टीम के साथ रियो खेल देखने और खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने गए थे लेकिन उन्होंने अभी तक वहां कोई मैच नहीं देखा। हालांकि, खेल मंत्री विज ने इस पूरे मामले में सफाई देते हुए ट्वीट कर कहा था कि वह ओलंपिक में हरियाणा के खिलाड़ियों को इनकरेज करने के लिए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि इस टीम के जाने पर कुल एक करोड़ की राशि खर्च की गई है।

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक  विज और उनकी टीम हरियाणा के खिलाड़ियों के मैच देखने के बजाए बीच और शहर घूमने में रुचि ले रहा है। विज की इस टीम में हरियाणा बीजेपी विधायक ध्यानचंद गुप्ता और रणधीर सिंह कापरिवास के अलावा मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार अमित आर्य शामिल हैं। इनके अलावा खेल के अतिरिक्त मुख्य सचिव केके खंडेलवाल, और संयुक्त खेल निदेशक ओपी शर्मा भी इस टीम के साथ रियो गए हैं। अनिल विज के निजी सचिव और खंडेलवाल के निजी सचिव भी इस दौरे पर रियो गए हैं।

खबर ये है कि विज ने रियो पहुंचने के बाद अभी तक एक भी मैच नहीं देखा है। हरियाणा के खेल मंत्री 14 अगस्त को रियो पहुंचे थे और उन्होंने अभी तक अपने प्रदेश के किसी भी खिलाड़ी का कोई मैच नहीं देखा है जबकि 15 अगस्त मुक्केबाजी में विकास कृष्णन का बेहद अहम क्वार्टर फाइनल मुकाबला था और 16 अगस्त को ग्रीको रोमन में ही 98 किग्रा भार वर्ग में हरदीप सिंह का मैच था लेकिन इन दोनों ही मैचों के दौरान वे दिखाई नहीं दिए।

गौरतलब है कि विजय गोयल पर आरोप था कि वो मान्यता प्राप्त जगहों पर गैर मान्यता प्राप्त लोगों को लेकर घुस गए। इस कारण ओलंपिक आयोजकों ने धमकी दी थी कि भारत के केंद्रीय खेल मंत्री गोयल को दी जा रही सभी सुविधाएं और अधिकारों को भी उनसे वापस ले लिया जाएगा।


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।